भूईया जनजाति की सामाजिक जीवन एंव राजनितिक व्यवस्था: बलिशंकरा प्रखंड-उड़ीसा राज्य के विशेष सदंर्भ में

अन्नीकेत कुमार रजक, डॉ० सुशील केरकेट्टा

Abstract


संवैधानिक संस्था किसी भी सामाजिक व्यवस्था प्रणाली को सुचारू रूप से कार्यान्वित करने के लिए अत्यंत महत्वणूर्ण हैं, चाहे वे आदिम समाज हो या आधुनिक समाज। यह अध्ययन उड़ीसा राज्य (भारत) के भूईया जनजाति पर राजनीतिक एंव सामाजिक दृष्टिकोण से हो रहे महत्वपूर्ण बदलाव पर केंद्रित है। यहाँ के जनजाति (भूईया) परिवार का स्वरुप पितृसत्तामक, पितृवंशीय एंव पितृस्थानीय होता है, परिवार मे पिता का स्थान सर्वोच्च होता हैं। जन्म और विवाह के माध्यम से नातेदारी प्रणाली विकसित होती हैं। वर्तमान अध्ययन सुन्दरगढ़ जिला के अंतगर्त बलिशंकरा प्रखण्ड के भूईया समाज के लोगो से साक्षात्कार, अवलोकन एंव फोटोग्राफी विधि के आधार पर केंद्रित है, जो बलिशंकरा क्षेत्र का दौरा करते वक्त किया गया था। पूर्वतः बलिशंकरा गाँव मे सभी प्रकार के वाद-विवाद, आपसी एंव सामाजिक लड़ाई-झगड़े, इत्यादि मसलां का सुलह अपने समाज के अन्दर ही जाति पंचायत या समाजिक संगठनो द्वारा किया जाता था। यद्पि साक्षात्कार के माघ्यम से पाया गया कि विशेष समाज (भूईया जनजाति) के लोग वर्तमान दौर में हर छोटे-मोटे मसलों के लिए प्रशासनिक एंव राजनैतिक संगठनो का सहारा लेना मुनासिब समझते हैं। यातायात के विकास, बाहरी सम्पर्क एंव आधुनिकता सम्पर्क के कारण यहाँ के जनजातीय समाज मे काफी परिवर्तन आया हैं। अतः वर्तमान अध्ययन के आधार पर यह कहा जा सकता हैं कि जहा विशेष समाज के लोग वर्तमान दौर के अनुरुप अपना सामंजस्य स्थापित कर रहे हैं, तो वही दूसरी ओर अपनी परम्परागत् सामाजिक व्यवस्था प्रणाली एंव सांस्कृतिक रीति रिवाज से दूर जा रहे हैं। इनमे से कुछ बदलाव स्वभाविक हैं तो कुछ समय की मांग है। अतः वर्तमान अध्ययन भूईया जनजाति पर हो रहे महत्वपूर्ण सामाजिक एंव सांस्कृतिक परिवर्तन की ओर इंगित करता हैं।

Keywords


भूईया जनजाति, संवैधानिक एंव सामाजिक व्यवस्था, आधुनिक युग, जाति पंचायत, सामाजिक परिवर्तन, पितृसत्तामक, नातेदारी प्रणाली

Full Text:

PDF

References


West B.A. Encyclopedia of the Peoples of Asia and Oceania.Infobase. ISBN 978-0-8160-7109-8. 2009; 107–108.

https://en.wikipedia.org/wiki/Bhuiya).

http://wikiedit.org/India/Balisankara/121934/.html.

https://www.wikivillage.in/block/odisha/sundargarh/balisankara.html.

शर्मा विमला चरण एवं विक्रम कीर्ति, झारखण्ड की जनजातियॉं, क्राउन पब्लिकेशन्स, रॉंची, (2006)ः पृ0 179।

डॉ शर्मा अवधेश एवं डॉ शर्मा निवेदिता, सामाजिक-सांस्कृतिक मानव विज्ञान, (2012)ः पृ0 116।

सिंह सुनील कुमार, झारखण्ड परिदृश्य, क्राउन पब्लिकेशन्स, रॉंची, (2014)ः पृ0 386।

https://www.encyclopedia.com/humanities/encyclopedias-almanacs-transcripts-and-maps/bhuiya.

https://www.linkedin.com/pulse/married-daughter-rights-fathers-property-cs-subhash-jha-llb-.html.

उपाध्याय, बी एस तथा वी पी शर्मा, भारत की जनजातीय संस्कृति, मध्य प्रदेश हिन्दी ग्रन्थ अकादमी, भोपाल, (1989)ः पृ0 111।

अहमद जियाउदीन, बिहार के आदवासी, मोतीलाल, बनारसीदास,दिल्ली, (1978)ः पृ0 116।

https://en.wikipedia.org/wiki/Panchayati_raj_(India).


Refbacks

  • There are currently no refbacks.